• पोस्टल बैलेट में हारे मुलायम, शिवपाल की विधानसभा से मिली बेरुखी ने कम किया जीत का अंतर

    .मुलायम सिंह यादवमैनपुरी समाजवादी पार्टी का गढ़ कहा जाता है। सपा के टिकट पर यहां से जिसने चुनाव लड़ा वह हजारों नहीं, लाखों वोटों से जीता, लेकिन वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के नतीजों से सपा के दुर्ग की नींव कमजोर होती नजर आ रही है। शायद इसीलिए लाखों वोटों से जीतने वाले नेता जी सिर्फ और सिर्फ 94 हजार वोटों से ही जीत हासिल कर सके।

    नेता जी के कद के हिसाब से यह जीत काफी छोटी है। खुद सपाई खेमा भी इसे स्वीकार कर रहा है और जीत का अंतर कम होने के कारण जानने के लिए समीक्षा की बात कही जा रही है। बात जसवंतनगर क्षेत्र की करें तो यहां भी सपा को नुकसान हुआ है। इस बार जसवंतनगर के मतदाताओं ने सपा को उतनी लीड नहीं दी, जितनी बीते चुनाव में देते आए हैं। अगर जसवंतनगर से नेता जी को साथ मिला होता तो भी जीत का अंतर बढ़ सकता था। बात पोस्टल बैलेट की करें तो भाजपा के प्रेम सिंह शाक्य को 1978 तो वहीं मुलायम सिंह यादव को 1781 वोट मिले।...................................................................................................................................Jan Samachar News in Agra ( जन समाचार आगरा )
  • You might also like

    No comments:

    Post a Comment